Saturday, August 8, 2020
Recent News
Home > Share Market > कोरोना वायरस के कहर से शेयर बाज़ार में कैसे बचे?
Share Market

कोरोना वायरस के कहर से शेयर बाज़ार में कैसे बचे?

public provident fund

कोरोना वायरस और बस कोरोना वायरस पूरी दुनिया इसके कहर से नहीं बच पाई है. लगभग 148 देश में इसका सीधा असर पडा है. कोरोना वायरस के कहर से शेयर बाज़ार भी नहीं बचा है. इसलिए हमे यह जानकारी होनी चाहिए की हमे किस तरह से शेयर बाज़ार में निवेश करना चाहिए? क्योकि शेयर बाज़ार में 13 मार्च 2020 को सदी सा सबसे बड़ा नेगेटिव फॉल देखना पड़ा है. जो कि 10% से ज्यादा रहा है. जिसकी वजह से शेयर बाज़ार को 45 मिनट का हाल्ट देखा गया था. फिर जब बाज़ार खुला तो आपने बाज़ार में उछाल भी देखा है. इसलिए आपको यहाँ जानकारी होनी चाहिए की इस वोलेटाइल मार्किट में किस तरह से निवेश करे और आपको क्या करना चाहिय? इसके लिए मैंने आपके साथ कुछ टिप्स शेयर किये है जिसे आप ध्यान रखेगे तो यह वोलेटाइल मार्किट ट्रेड कर सकेगे.

स्टेबल स्टॉक में ट्रेडिंग करे

स्टेबल स्टॉक में ट्रेडिंग करना सबसे बेहतरी विकल्प हो सकता है. स्टेबल स्टॉक आप लार्ज कैप के स्टॉक को समझ सकते है. जो देश की टॉप 10 कंपनी है. ये स्टॉक काफी स्टेबल होते है. यानी की अगर इन स्टॉक को ग्रोविंग मार्किट में अपनी पुरानी स्थिथि में आ जाते है. इसलिए इस समय स्टेबल या लार्ज कैप के स्टॉक में ट्रेडिंग करना या शेयर खरीदना आपके लिए अच्हा विकल्प हो सकता है.

गिरते बाज़ार में मार्किट को शोर्ट कर के करे कमाई

शेयर बाज़ार में शोर्टिंग कर के बहुत पैसा बनाया जा सकता है. और यह शोर्टिंग इस समय के शेयर बाज़ार में करना बहुत फायदेमंद हो सकता है. क्योकि शेयर बाज़ार कोरोना वायरस की वजह से हर दिन निचे गीर रहा है. जिससे साफ़- साफ़ पता चलता है की बहुत सारे शेयर जो की सेंसेक्स और निफ्टी में लिस्ट शेयर की कीमत कम हो रही है. इसलिए कोरोना वायरस के इस कहर में भी पॉजिटिव रिटर्न के लिए शेयर मारकेट में शेयर की शोर्टिंग कर के अच्हा पैसा बनाया जा सकता है.

शेयर मारकेट में शोर्टिंग क्या होती है?

अगर आपको याद होगा 2008 की ग्लोबल क्राइसिस तो आपको यह भी पता होगा की वह सबसे तब तक का सबसे बड़ा मारकेट शोर्ट था. शेयर बाज़ार में अरबो रूपए एक दिन में ही गायब हो गए थे लोगो को भरी नुक्सान हुआ. पर कुछ लोगो ने खूब पैसे बनाये. मारकेट को शोर्ट करके.

मारकेट को शोर्ट करना यानी की अगर आप किसी कंपनी के शेयर को या फ्यूचर या आप्शन में किसी स्टॉक को महगे दामो में बेचते है. और फिर उसे कम दाम में खरीदते है. इनके बिच का अंतर हमारा प्रॉफिट होता है. आइये इसे एक उधारण से समझते है.

मन लीजिये की आपने टाटा मोटर्स के 1000 शेयर को 100 रूपए में बेचा और टाटा मोटर्स के 1000 शेयर को 90 रूपए में खरीद लिया तो आपको यहाँ पर प्रति शेयर 10 रूपए का लाभ हुआ यानी की आपको 10,000 रूपए का मुनाफा हुआ.

इस तरह से हम शेयर बाज़ार में शेयर, फ्यूचर या फिर आप्शन को शोर्ट करके पैसा बनाते है. लेकिन शेयर बाज़ार में शोर्टिंग ध्यान से करना चाहिए. आपको यह ध्यान रखना चाहिए की कौन से शेयर में बिकवाली आने वाली है. जैसे की कोरोना वायरस की वजह से भारतीय शेयर बाज़ार में यहाँ तक की पुरे विश्व के बाज़ार में गिरावट आ रही है और बिकवाली का मौहाल बना हुआ है. इसलिए इस समय शेयर बाज़ार को शोर्ट करना फायदे की ट्रेडिंग प्लानिंग है.

आप लोग निचे जरुर बताये की आपकी क्या राय है. आप क्या चाहते है अभी शेयर बाज़ार से? क्या आपको भी शेयर बाज़ार में शोर्ट करके पैसा बनाना है. या फिर आपकी कोई और प्लानिंग है.

0 0 vote
Article Rating
Ravi Kant
Hi... this is Ravi the man behind 'The Indian Fever' I am a full-time Youtuber as well as the blogger. I am providing here the perspective and analysis of knowledge and news by my own analysis.
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x
%d bloggers like this: