Recent News
Home > latest News > प्रधानमंत्री कुसुम योजना क्या है?
latest News

प्रधानमंत्री कुसुम योजना क्या है?

PM kusum yojana

प्रधानमंत्री कुसुम योजना को बजट 2018-10 में पेश किया गया था. कुसुम योजना स्वर्गीय अरुण जेटली के द्वारा लांच किया गया है. इस योजना को ख़ास रूप से किसानो के लिए बनाया गया है. PM कुसुम योजना का मुख्या उद्शेय डीजल और पेट्रोल से चले वाले पानी के पंप को हटाकर किसको के लिए सौर्य उर्जा से चलने वाले पानी के पंप को लगाना. इस योजना की मदद से उन इलाको तक पहुचना है जहा पर बिजली अभी तक नहीं पहुची है. PM कुसुम योजना का मुख्य उद्देश्य यह भी है की किसान की डीजल और पेट्रोल पर निर्भरता कम हो सके.

प्रधानमंत्री कुसुम योजना किस तरह से काम करती है?

प्रधानमंत्री कुसुम योजना मुख्या रूप से किसानो की फसलो और किसानो की बंजर पड़ी भूमि का सही प्रयोग करने के लिए है. किसको की फसल कम या जायदा बारिश से फसले ख़राब होना आम बात है. इसलिए कुसुम योजना लाइ गई है जो सोलर पंप लगाकर किसानो की इस समस्या को हल कर रही है.

किसान, प्रधानमंत्री कुसुम योजना की मदद से अपने बंजर भूमि का सही प्रयोग कर सकती है. PM कुसुम योजना की मदद से किसान अपनी बंजर भूमि पर सोलर पैनेल लगाकर सौर्य उर्जा उत्पन कर सकते है.

PM कुसुम योजना की मदद से किसान अपने डीजल से चल रहे पंप को बदलकर सोलर पैनेल से चलने वाली पंप लगवा सकते है. जिससे उनको डीजल पर निर्भर नही रहना पड़ेगा. साथ ही बज्नर भूमि पर सोलर पैनल लगाकर आस पास के गाव में बिजली बेचीं जा सकती है.

PM कुसुम योजना में सरकार कैसे काम कर रही है ?

PM कुसुम योजना में सरकार सभी किसानो के लिए 2022 तक तीन करोड़ सिचाई पंप लगवायेगी. इस योजना में बिजली और डीजल से चल रहे सभी तरह के सिचाई पंप सामिल होंगे. सरकार का अनुमानित बजट इस योजना को लेकर 1.40 लाख करोड़ रूपए का है. और बजट 2020 में भी इसकी अपडेट दी गई है.

PM कुसुम योजना में केद्र सरकार और राज्य सरकार दोनों का बराबर योगदान होगा. और साथ ही इसमें किसको को भी पूरी लागत का 10% योगदान करना होगा. सरकार ने PM कुसुम योजना के लिए बैंक से लोन लेने के लिए भी ख़ास व्यवस्था करवाई है.

प्रधानमंत्री कुसुम योजना कैसे पूरी की जाएगी ?

प्रधानमंत्री कुसुम योजना को पूरा करने के लिए सरकार ने कुछ चरण तैया किये है. जिसे पहला चरण कह रही है सरकार. पहले चरण में PM कुसुम योजना केवल डीजल से चल रहे सिचाई पंप को बदला जायेगा. इस योजना में कार्य करने का मुख्य मकसद डीजल पंप को कम करना है. जिससे किसानो की डीजल पर निर्भरता कम हो सके. और डीजल की निर्यात पर रोक लग सके.

प्रधानमंत्री कुसुम योजना से जुडी मुख्य बाते

  • PM कुसुम योजना में किसानो को भी अपना योगदान देना होगा. इस योजना में किसानो का 10% योगदान होगा.
  • PM कुसुम योजना में मिलने वाली साडी सब्सिडी सरकार किसानो के बैंक खाते में फुचाएगी.
  • कुसुम योजना में सोलर प्लांट केवल बंजर भूमि पर ही लगाये जायेगे, यानी की उपजाऊ भूमि नहीं होनी चाहिए.
  • PM कुसुम का योजना का आधार बैंक से जुदा है. इसलिए इस योजना में किसान को बैंक से लोन लेना होगा. बैंक से लोन पूरी लगत का 30% होना चाहिए.
  • PM कसूम योजना में सरकार पूरी लगत का केवल 60% ही रकम सब्सिडी के रूप में देगी .
  • कुसुम योजना से जिन इलाको में बिजली ग्रीड नहीं है. उन इलाको में किसानो को 18 लाख सिचाई पंप दिए जायेगे. जिन इलाको में बिजली ग्रीड है वह पर किसानो को 10 लाख पंप दिए जाएगी.

PM कुसुम योजना से किस तरह के फायदे हो सकते है?

  • PM कुसुम योजना से किसानो को डीजल के इस्तेमाल से रहत मिलेगी.
  • किसान अपनी बंजर भूमि का प्रयोग कर बिजली उत्पादन कर सकते है.
  • कुसुम योजना से बिजली की कफत भी कम होगी. जिसे सौर्य उर्जा को बढावा मिलेगा.
  • कुसुम योजना को लेकर सक्कर का मानना है की वह इस योजना से 30 हजार मेगावाट के बिजली का उत्पादन कर सकेगी. अगर देश के सभी पंप सोलर पंप से जुड़ जाये.

बजट 2020 में PM कुसुम योजना में क्या अपडेट है ?

बजट 2020 की पेशकस में प्रधानमंत्री कुसुम योजना का जिक्र किया गया है. कुसुम योजना में 15 लाख और किसानो को इस योजना में सामिल करने का फिसला लिया गया है. इस योजना में किसनो को बिजली उत्पादन कर उससे ग्रीड करना भी सिखाया जायेगा.

Ravi Kant
Hi... this is Ravi the man behind 'The Indian Fever' I am a full-time Youtuber as well as the blogger. I am providing here the perspective and analysis of knowledge and news by my own analysis.

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
%d bloggers like this: